Friday, June 5, 2020
Home विज्ञान

विज्ञान

पृथ्वी की ओर तेजी से बढ़ रहा विशाल धूमकेतु, वैज्ञानिक भी हैरान!

पृथ्वी पर मौजूद सभी जीव- जंतुओं के लिए एक बुरी खबर आई है। दरअसल एक विशालकाय धूमकेतु तेजी से पृथ्वी की ओर बढ़ रहा है। खगोल वैज्ञानिकों ने चिंता व्यक्त करते हुआ कहा है कि अगर ये धूमकेतु पृथ्वी से थोड़ा भी टकड़ाया तो महा विनाश हो सकता है। इस भयानक धूमकेतु के बारे में अमेरिका के NASA ने दुनिया को जानकारी दी है।

Chandra Grahan 2020: 10 जनवरी को लगने जा रहा है चंद्रग्रहण, जानिए सबकुछ

साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को लगने जा रहा हैं। यह ग्रहण रात 10 बजकर 37 मिनट पर शुरू होगा और रात 2 बजकर 42 मिनट तक लगा रहेगा। इस ग्रहण की काली छाया पृथ्वी तक नही पहुँचने वाली है। बता दे कि इस ग्रहण की अवधि लगभग 4 घंटे की होगी। इस चंद्र ग्रहण को भारत समेत दुनिया के कई देशों में देखे जा सकेंगे।

हेड ट्रांसप्लांट के जरिए मरे हुए लोग फिर से हो सकेंगे जिंदा, अमेरिका ने इसे अनैतिक बताया

धरती पर ऐसा कोई भी इंसान नही जो मरना चाहता है, लेकिन जन्म और मृत्यु पर किसका जोर चला है सुवाये ईश्वर के। फिर भी वैज्ञानिकों ने हर समय कुदरत को चैलेंज करते आया है। दरअसल हाल ही ब्रिटेन के वैज्ञानिक ने दावा किया है कि हेड ट्रांसप्लांट के माध्यम से मरे हुए व्यक्तियों को फिर से जिंदा किया जाएगा। इतना ही नही हेड ट्रांसप्लांट से गंभीर रूप से घायल लोगों के इलाज में भी फायदा होगा।

Brain: मानव अपना दिमाग 10 प्रतिशत नही 100 प्रतिशत लगाता है! जाने कैसे?

हम सब ने सुना है कि इंसान अपने दिमाग का केवल 10 प्रतिशत हिस्सा ही यूज कर पाता है। हम में से बहुत से लोग आज भी इस धारणा को मानते हैं। 2013 में हुए सर्वे के अनुसार करीब 65 प्रतिशत अमेरिकन लोग मानते है कि मनुष्य अपना दिमाग केवल 10 प्रतिशत यूज करता है, लेकिन ये बात यथार्थ से परे हैं। इस बात में कोई सच्चाई नही है। इसे इस तरह समझिए।

Surya Grahan 2019: साल का आखिरी सूर्यग्रहण 26 दिसंबर को, भारत के इस राज्य में देगा दिखाई

सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) 2019 के अंतिम महिनें में होने वाला है जो 26 दिसंबर के गुरुवार सुबह 8 बजकर 4 मिनट से लेकर और 10 बजकर 56 मिनट तक रहेगा। इस सूर्य ग्रहण को एशिया, अफ्रीका और आस्ट्रेलिया में देखा जा सकेगा।

Most Read

Jyotiba phule : महिलाओं के लिए खोला था पहला स्कूल, महात्मा फूले का जीवनी

ज्योतिबा फुले महान क्रांतिकारी, भारतीय विचारक, समाजसेवी, लेखक एवं दार्शनिक थे। 19वी सदी में समाज में फैली कई तरह के कुरीतियों को उन्होंने उखार...

नमक कई प्रकार के होते है, जानिए उसके फायदे और नुकसान (Salt)

हम सभी नमक का सेवन करते है। इसमे सोडियम का अच्छा श्रोत पाया जाता है, जो हमारे पाचन क्रिया को बायलेंस करता है। लेकिन क्या आप जानते है कि नमक कितने प्रकार के होते है? आज आपको बताएंगे कि कौन कौन से नमक होते है और कौन से नमक आपके सेहत के लिए फायदेमंद है।

झील में बना भारत का अनोखा महल, पानी में बने 5 मंजिला इमारत की दिलचस्प कहानी

राजस्थान अपने विरास्तों के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध है। यहां कुछ ऐसी ऐतिहासिक इमारते है, जो आज भी शानों शौकत से खड़ी है और...

रूस लड़ रहा एक साथ तीन लड़ाई, कोरोना, जंगल की आग और नई सड़क बड़ा ख़तरा

कोरोना वायरस पूरी ​दुनिया के लिए संकट बना हुआ है, जिससे सभी देश लड़ने में लगी हुई है। इसी बीच रूस (Russia) तीसरी मार से जुझ रहा है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) इस समय कोरोना के साथ चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र के पास जंगल में लगी आग और मॉस्को मोटरवे की घटना की मार से जुझ रहे है।
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com