दिल्ली के बारे में रोचक बातें। Delhi Amazing Facts In Hindi

दिल्ली का लाल किला सफ़ेद रंग से बनवाया गया था, लेकिन 19वीं शताब्दी में अंग्रेजों ने लाल रंग से रंगवा दिया था। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ  का जन्म दिल्ली में हुआ था, जिसने हमेशा भारत के खिलाफ युद्ध लड़ा। आगे ऐसे ही अमेजिंग फैक्ट्स जानें-

0
104
Blog
दिल्ली के बारे में रोचक बातें। Delhi Amazing Facts In Hindi

दिल्ली शहर दिल वालों का, प्यार वालों का, समृद्ध संस्कृति और विरासतों का शहर है। दिल्ली भारतीय इतिहास की गवाह रही है, जिसने वैभव और आपदाएं देखी हैं। कहा जाता है कि जिसने दिल्ली पर शासन किया, उसने भारत पर शासन किया। आज हम दिल्ली से जुड़े एमेजिंग फैक्ट्स आपको बताने जा रहे है।

दिल्ली के बारे में रोचक बातें



भारत की राजधानी – नई दिल्ली भारत की मुख्य राजधानी है, लेकिन इससे पहले कोलकाता भारत की राजधानी थी। सबसे पहले किंग जॉर्ज पंचम ने 12 दिसंबर 1911 को दिल्ली को राजधानी घोषित किया था। हालांकि आधिकारिक रूप से 13 फरवरी 1931 को दिल्ली देश की राजधानी बनी।

महाभारत काल – दिल्ली महाभारत काल में पांडवों की राजधानी थी, जिसे उस समय इन्द्रप्रस्थ के नाम से जाना जाता था।

Blog

दुनिया की दूसरी अधिक आबादी वाला शहर – जापान की राजधानी टोक्यो के बाद दिल्ली दुनिया का दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। इस समय दिल्ली की आबादी लगभग 21.4 मिलियन है।

दीवारों का शहर – एक ज़माने में दिल्ली दीवारों से घिरा हुआ शहर था। सुरक्षा के लिहाज से यहाँ कूल 14 बड़े- बड़े दीवारें बनवाए गए थे। इनमे से ज्यादातर दीवारे तोड़ दिए गए, लेकिन 5 दीवारे अभी भी मौजूद हैं, जिसका नाम इस प्रकार है- कश्मीरी गेट, लाहौरी गेट, अजमेरी गेट, दिल्ली गेट और तुर्कमान गेट।


भारत का सबसे बड़ा शहर – क्षेत्रफल के हिसाब से दिल्ली, भारत का सबसे बड़ा शहर है। दिल्ली का कूल क्षेत्रफल 1484 वर्ग किलोमीटर है।

मेट्रों – दिल्ली मेट्रो दिल्ली की शान है, जो रोज तकरीबन 277 किमी की दूरी तय करती है। मेट्रों में रोज औसतन 2.8 मिलियन मुसाफिर सफर करते है। मेट्रों में एक भी डस्टबिन नही होते है, इसके बावजूद कहीं कचड़ा दिखाई नही पड़ता है।

दिल्ली को किसने बसाया – दिल्ली को तोमर वंश के राजा अनंगपाल ने बसाया था। इस बात का जिक्र चंदरबरदाई द्वारा रचीत पृथवीराज रासो में मिलता है।

दिल्ली नाम कैसे पड़ा – कहा जाता है कि दिल्ली का नाम राजा ढिल्लू के दिल्हीका के नाम पर रखा गया था।

दुनिया की सबसे बड़ी बस सेवा – दिल्ली परिवहन निगम दिल्ली की सरकारी जन-परिवहन सेवा है, जो दुनिया की सबसे बड़ी बस सेवा है, यह पूरी तरह से सीएनजी गैस पर चलती है। इसका मेन कारण दिल्ली का प्रदूषण कम करना हैं।

Blog

रेड लाइट एरिया – दिल्ली के जीबी रोड (रेड लाइट एरिया) में लगभग 116 कोठे है, जिस दलदल में पांच हजार से भी अधिक सेक्स वर्कर काम करती है।

फुड्स के लिए फेमस जगह – दिल्ली में पराठें वाली गली, चांदनी चौक की मिठाई, अशोका रोड पर बने आंध्र भवन की चिकन करी प्रसिद्ध है।

एशिया का सबसे बड़ा मसाला बाजार – पूरे एशिया में मसालों का सबसे बड़ा बाजार दिल्ली में स्थित है, जो खारी बावली मार्केट के नाम से प्रसिद्ध हैं। इसी मार्केट से पूरे उत्तर भारत में मसाले भेजे जाते हैं। यहाँ पर कई अलग-अलग मसाले काफी सस्ते दामों में मिल जाते हैं।

भारत के सबसे बड़े व्यापारिक शहर – दिल्ली शहर व्यापार के मामले में दूसरे नंबर पर है। पहले नंबर पर मुंबई का नाम सामने आता हैं।

दिल्ली भारत का केंद्रशासित प्रदेश – दिल्ली एक केंद्रशासित प्रदेश है। हमारे देश में दिल्ली समेत कूल 9 केंद्रशासित प्रदेश हैं।

भारत सरकार के तीनों अंग – कार्यपालिका, संसद और न्यायपालिका के मुख्यालय दिल्ली में स्थित हैं।

सबसे प्रदूषित शहर – तमाम प्रयासों के बावजूद दिल्ली और इसके आस पड़ोस के क्षेत्र सबसे अधिक प्रदूषित हैं। हालांकि दिल्ली भारत के सबसे हरे-भरे शहरों में से एक हैं। यहाँ लगभग 20 प्रतिशत भू-भाग हरियाली से ढ़का हुआ है।

दिल्ली की खोज – 6ठी शताब्दी में दिल्ली को खोजा गया था। तब से दिल्ली को 7 बार बसाई और उजाड़ी जा चुकी हैं। इस दौरान यहाँ अनेकों मौर्य, तुगलक, खिलजी और मुस्लिम शासकों ने राज किया।


दिल्‍ली की स्‍थापना – इसकी स्थापना दिसंबर 1991 में हुई थी।

परवेज मुशर्रफ  का जन्म – दिल्ली में पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ का जन्म हुआ था, जिसने हमेशा भारत के खिलाफ युद्ध लड़ा।

भारत की सबसे बड़ी मस्जिद – जामा मस्जिद दिल्ली में ही स्थित है, जिसे 1650 में मुग़ल बादशाह शाहजहाँ ने बनवाया था।

एक अनोखा मंदिर लोटस टेंपल कमल मंदिर दिल्ली में ही स्थित है। इस मंदिर में न कोई मूर्ति है और न कोई धार्मिक कार्य होता है। फिर भी यहां तकरीबन आठ से दस हजार पर्यटक हर रोज आते हैं।

ईंटों से बनी दुनिया की सबसे ऊँची मिनार – कुतुब मीनार भी दिल्ली में ही है। मिनार में कूल 379 सीढियाँ हैं।  इसका निर्माण 13वी शताब्दी में फिरोज शाह तुगलक ने पूरा करवाया था। यह मीनार यूनेस्को की विश्व धरोहर स्मारकों के लिस्ट में भी शामिल है।

लाल किला सफ़ेद किला था – दिल्ली का लाल किला सफ़ेद रंग से बनवाया गया था, लेकिन 19वीं शताब्दी में अंग्रेजों ने लाल रंग से रंगवा दिया था।

आज हमने आपको दिल्ली से जुड़े अमेजिंग फैक्ट्स बताया। आपको ये आर्टिकल कैसा लगा, हमे ज़रूर बताए और आपके मन में कोई सुझाव है तो जरूर दे। आप आर्टिकल को शेयर कर सकते हैं और हमसे जुड़े रहने के लिए Subscribe कर सकते है। धन्यवाद!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here