Friday, October 23, 2020
Home विशेष अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है, कब हुई...

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस कब, क्यों और कैसे मनाया जाता है, कब हुई थी शुरूआत

8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस है। भारत में 13 फरवरी को भारतीय महिला दिवस भी मनाई जाती है। बहुत कम लोग जानते है कि अंतरराष्ट्रीय पुरूष दिवस भी मनाया जाता है।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) हर साल 8 मार्च को दुनियाभर में मनाया जाता है। यह त्योहार महिलाओं की अधिकारों की बात करता है। इस दिन विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं की योगदान के प्रति आदर, प्रशंसा और प्यार जाहिर किया जाता है। साथ ही महिलाओं को जागरूक करने और उन्हे सशक्त बनाने के लिए आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक स्तर पर पहल की जाती है।



कब और कैसे हुई शुरूआत?

दरअसल 19वी सदी में महिलाओं की स्थिती आज से भी बद्दतर थी। उन्हे हर मामलो में कमजोर समझा जाता था। महिलाओं को वोट देने तक का अधिकार नही था। वह किसी प्रतियोगिता में हिस्सा नही ले सकती थी। जो मज़दूर महिलाएँ थी, उन्हे कम पैसों में समय से अधिक वक्त तक काम करना पड़ता था। इन सब के विरोध में 1908 में 15 हजार महिलाओं ने न्यूयॉर्क शहर में प्रदर्शन किया।

विरोध प्रदर्शन के 1 साल बाद 1909 में यूनाइटेड स्टेट्स में पहली बार राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। राष्ट्रीय महिला दिवस का आइडिया सबसे पहले जर्मनी की क्लारा जेडकिंट ने 1910 में दिया था। इस आइडिया पर एक सम्मेलन का आयोजन हुआ। इस सम्मेलन में 17 देशों से 100 महिलाएँ शामिल हुई और सभी ने महिला दिवस मनाने पर सहमति जाहिर की।

कुछ समय बाद पहली बार 19 मार्च 1911 में ऑस्ट्रिया, डेनमार्क, जर्मनी और स्विट्ज़रलैंड में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। दो साल बाद 1913 में तिथि बदलकर 8 मार्च कर दिया गया। लेकिन इसकी आधिकारिक मान्यता 1975 में संयुक्त राष्ट्र संघ ने 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाकर दी। तब से हर साल 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है।

दुनियाभर में कैसे मनाया जाता है?

कई देशों में इस दिन महिलाओं को आधिकारिक छुट्टी दी जाती है। चीन, नेपाल. मकदूनिया और मेडागास्कर में केवल महिलाओं को एक दिन की छुट्टी का प्रावधान है।

कुछ देशों में तो इस दिन आधिकारिक अवकाश होता है। जैसे- रूस, अफगानिस्तान, अजरबैजान, बेलारूस, बुर्किना फासो, कंबोडिया, क्यूबा, जॉर्जिया, गिन्नी-बिसाउ, इरीट्रिया, कजाखस्तान, किर्गिस्तान, लाओस, माल्डोवा, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, यूगांडा, यूक्रेन, उज्बेकिस्तान, वियतनाम, जाम्बिया और मंगोलिया।

किसी किसी देशों में महिला दिवस को माता दिवस के तौर पर भी मनाया जाता है। इस दिन खासकर बच्चे अपनी मां, दादी और चाची को गिफ्ट देकर अपना सम्मान जाहिर करते है।

भारत में कैसे मनाया जाता है?

भारत में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस उत्साह भरे अंदाज़ में मनाया जाता है। देश के अलग अलग हिस्सों में महिलाओं की उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए उन्हे सम्मानित किया जाता है। महिलाओ की मौलिक अधिकार, शिक्षा का अधिकार और समानता का अधिकार मिले इसके लिए जागरूकता अभियान भी चलाई जाती है।  


क्या भारतीय महिला दिवस भी मनाई जाती है?

भारत में 13 फरवरी को भारतीय महिला दिवस मनाई जाती है, जिसे राष्ट्रीय महिला दिवस कहा जाता है। इसे भारत की पहली महिला राज्यपाल रहीं सरोजिनी नायडू के जन्म दिन पर मनाया जाता है। राष्ट्रीय महिला दिवस सबसे पहले 13 फ़रवरी 2014 को मनाया गया। तब से हर साल भारत में महिलाओं के विकास के लिए सरोजनी नायडू द्वारा किए गए कार्यों को सम्मान दिया जाता है।

क्या पुरूष दिवस भी मनाया जाता है?

जी हाँ, अंतराष्ट्रिय महिला दिवस की तरह ही अंतराष्ट्रिय पुरूष दिवस भी मनाया जाता है। बहुत कम लोग ही जानते है कि अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया जाता है। यह हर साल 19 नवंबर को मनाया जाता है, जो 1990 से ही मनाया जा रहा है, लेकिन इसकी मान्यता संयुक्त राष्ट्र की ओर से अब तक नही दी गई है। पुरूष दिवस मनाने का मकसद समाज परिवार, विवाह और बच्चों के जीवन में पुरूष के योगदान को बताना है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Jyotiba phule : महिलाओं के लिए खोला था पहला स्कूल, महात्मा फूले का जीवनी

ज्योतिबा फुले महान क्रांतिकारी, भारतीय विचारक, समाजसेवी, लेखक एवं दार्शनिक थे। 19वी सदी में समाज में फैली कई तरह के कुरीतियों को उन्होंने उखार...

नमक कई प्रकार के होते है, जानिए उसके फायदे और नुकसान (Salt)

हम सभी नमक का सेवन करते है। इसमे सोडियम का अच्छा श्रोत पाया जाता है, जो हमारे पाचन क्रिया को बायलेंस करता है। लेकिन क्या आप जानते है कि नमक कितने प्रकार के होते है? आज आपको बताएंगे कि कौन कौन से नमक होते है और कौन से नमक आपके सेहत के लिए फायदेमंद है।

झील में बना भारत का अनोखा महल, पानी में बने 5 मंजिला इमारत की दिलचस्प कहानी

राजस्थान अपने विरास्तों के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध है। यहां कुछ ऐसी ऐतिहासिक इमारते है, जो आज भी शानों शौकत से खड़ी है और...

रूस लड़ रहा एक साथ तीन लड़ाई, कोरोना, जंगल की आग और नई सड़क बड़ा ख़तरा

कोरोना वायरस पूरी ​दुनिया के लिए संकट बना हुआ है, जिससे सभी देश लड़ने में लगी हुई है। इसी बीच रूस (Russia) तीसरी मार से जुझ रहा है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) इस समय कोरोना के साथ चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र के पास जंगल में लगी आग और मॉस्को मोटरवे की घटना की मार से जुझ रहे है।

Recent Comments

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com