Tuesday, August 11, 2020
Home अजब- गजब शायरी Best Hindi Shayari | हिंदी शायरी | Latest Hindi Shayari | Hindi/Eng...

Best Hindi Shayari | हिंदी शायरी | Latest Hindi Shayari | Hindi/Eng Part 2




पिछली बार की तरह आज भी आप सभी के लिए दिल छूने वाली हिंदी शायरी लेकर आया हूँ। खासकर वे शायरी प्रेमी, जिन्हें शायरी पसंद है और इंटरनेट पर हिन्दी शायरी पढ़ना चाहते है। तो देर किस बात की पेश है चुनिंदा और बेहतरीन शायरी-

Shayari About The Difference Between Village And City

इमारते है ऊँची शहरों के, माचिस की डिब्बी सा घर दिखता हैं
दीवाल आ जाती है दो क़दमों में और साँसे थम जाती है यहाँ
तब गाँव के आबों- हवा में छोटा मकान ही मुझे बड़ा दिखता है
Imaarate Hai Unchi Shaharon ke, Machis Ki Dibbi Sa Ghar Dikhata hai
Deewaal Aa Jaati Hai Do Kadamon Me Aur Sanse Tham Jaari Hai Yahan
Tab Gaon Ke Aabon Hawa Me Chhota Makaan Hi Mujhe Bada Dikhata hai

Blog

Shayari About The Difference Between New And Old Era

अपने दौर की कहानी सबको अच्छी लगती है
पुराने को नई और नये को पुरानी लगती है


Apane Daur Ki Kahani Sabko Achchhi Lagati Hai
Puraane Ko Nai Aur Naye Ko Puraani Lagati Hai

Blog

Shayari About Greedy Politics 

कहानी मत सुनाओ सियासत की बात करो
हुक़ूमत करना जानते है बस जीतने का नुश्खा बताओ
Kahani Mat Sunao Siwasat Ki Baat Karo
Hukoomat Karna Jante Hai Bas Jeetane Ka Nushkha Batao

Blog

Shayari- What Is Life?

खेल है ये जिंदगी दशकों तक हारे है दशको तक जीते है
बर्बादी के गम में पीये है कभी आबादी के जश्न में पीये है
फिर भी कहते है शराब और जुआ किसी का नहीं हुआ है
Khel Hai Ye Zindagi Dashakon Tak Hare Hai Dashakon Tak Jeete Hai
Barbaadi Ke Gam me PeeyeHai Kabhi Aabaadi Ke Jashn Me Jiye Hai
Fir BHi Kahate Hai Sharab Aur Juaa Kisi Ka Nahi Huaa Hai

Blog

Shayari saying about poverty

क़ुर्बत की आग में जलकर फौलादी ताकत मैं बन जाऊ
ज़माने की थकन को लेकर चैन से कब्र में मैं सो जाऊ
गरीबी का मज़ाक अक्सर गरीबों ने ख़ुद ही उड़वाया है
लिबास नही तो कफ़न में लिपटकर मिट्टी में मिल जाऊ
Kurbat Ki Aag Me Jalkar Fauladi Takat Mai Ban Jaun
Zamaane Ki Thakan Ko Lekar Chain se Kabra Me Mai So Jaun
Gariibi Ka Mazaak Aksar Garibon Ne Khud Hi Udawaaya Hai
Libas Nahi To Kafan mein Lipatkar Mitti Me Mil Jaun

Blog

Shayari About Different thinking

सुनने वाले को वक़्त के तज़ुर्बें बेकार नही लगे
और तज़ुर्बेदार कहते है वक़्त यूँ ही बेकार गये



Sunane Wale Ko Waqt Ke Tazuraben Bekar Nahi Lage
Aur Tazurbedaar Kahate hai Waqt Yun Hi Bekaar Gaye

Blog

शायरी:- शायरी एक ऐसा माध्यम है जिसके जरिए हमारे अंदर उमड़ रहे भावनाओं को आसानी से और कम शब्दों में व्यक्त कर पाते है। वो बातें जो साधारण वार्तालाप में कह पाना मुश्किल होता है उसे भी शायरी के जरिए प्रकट करते है। हमने इसी तरह की चुनिंदा शायरी को आप तक पहुँचाने की कोशिश की हैं। धन्यवाद!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Jyotiba phule : महिलाओं के लिए खोला था पहला स्कूल, महात्मा फूले का जीवनी

ज्योतिबा फुले महान क्रांतिकारी, भारतीय विचारक, समाजसेवी, लेखक एवं दार्शनिक थे। 19वी सदी में समाज में फैली कई तरह के कुरीतियों को उन्होंने उखार...

नमक कई प्रकार के होते है, जानिए उसके फायदे और नुकसान (Salt)

हम सभी नमक का सेवन करते है। इसमे सोडियम का अच्छा श्रोत पाया जाता है, जो हमारे पाचन क्रिया को बायलेंस करता है। लेकिन क्या आप जानते है कि नमक कितने प्रकार के होते है? आज आपको बताएंगे कि कौन कौन से नमक होते है और कौन से नमक आपके सेहत के लिए फायदेमंद है।

झील में बना भारत का अनोखा महल, पानी में बने 5 मंजिला इमारत की दिलचस्प कहानी

राजस्थान अपने विरास्तों के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध है। यहां कुछ ऐसी ऐतिहासिक इमारते है, जो आज भी शानों शौकत से खड़ी है और...

रूस लड़ रहा एक साथ तीन लड़ाई, कोरोना, जंगल की आग और नई सड़क बड़ा ख़तरा

कोरोना वायरस पूरी ​दुनिया के लिए संकट बना हुआ है, जिससे सभी देश लड़ने में लगी हुई है। इसी बीच रूस (Russia) तीसरी मार से जुझ रहा है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) इस समय कोरोना के साथ चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र के पास जंगल में लगी आग और मॉस्को मोटरवे की घटना की मार से जुझ रहे है।

Recent Comments

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com