Friday, September 25, 2020
Tags गौरवशाली

Tag: गौरवशाली

Bihar: जैसा बिहार दिखता है वैसा पहले नही था, इसका उतना ही पुराना इतिहास है जितना भारत का!

बिहार की जब बात होती है तो ज्यादातर लोगों का ध्यान गरीबी, बेरोजगारी या अशिक्षा पर केन्द्रित होता है। लेकिन इतिहास के स्वर्णिम पन्नों को पलटने पर पता चलता है कि जैसा बिहार दिखता है वैसा पहले नही था, बल्कि बिहार का इतिहास गौरवशाली रहा है। इसका इतिहास उतना ही पुराणा है जितना भारत का है। बिहार के मिट्टी में मौर्य, गुप्त आदि राजवंशो ने, मुगल शासकों ने राज किया। दुनिया को ज्ञान का पहला पाठ पढ़ाने वाला नालांदा विश्वविधालय बिहार में ही स्थित है। बौध धर्म और जैन धर्म की उत्पत्ति और इसके संस्थापक बिहार में हुए। सिखों के 10वें गुरू गोविंद सिह जी इसी मिट्टी में जन्में। रामायण काल में माँ सीता बिहार की धरती पर जन्म लेकर यहाँ की राजकुमारी बनी। भारत के सबसे गौरवशाली सम्राज्य मगद्ध और ढ़ाई हजार सालों तक मगध की राजधानी रही पाटलिपुत्र (पटना) वर्त्तमान समय में बिहार की राजधानी है।

Most Read

Jyotiba phule : महिलाओं के लिए खोला था पहला स्कूल, महात्मा फूले का जीवनी

ज्योतिबा फुले महान क्रांतिकारी, भारतीय विचारक, समाजसेवी, लेखक एवं दार्शनिक थे। 19वी सदी में समाज में फैली कई तरह के कुरीतियों को उन्होंने उखार...

नमक कई प्रकार के होते है, जानिए उसके फायदे और नुकसान (Salt)

हम सभी नमक का सेवन करते है। इसमे सोडियम का अच्छा श्रोत पाया जाता है, जो हमारे पाचन क्रिया को बायलेंस करता है। लेकिन क्या आप जानते है कि नमक कितने प्रकार के होते है? आज आपको बताएंगे कि कौन कौन से नमक होते है और कौन से नमक आपके सेहत के लिए फायदेमंद है।

झील में बना भारत का अनोखा महल, पानी में बने 5 मंजिला इमारत की दिलचस्प कहानी

राजस्थान अपने विरास्तों के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध है। यहां कुछ ऐसी ऐतिहासिक इमारते है, जो आज भी शानों शौकत से खड़ी है और...

रूस लड़ रहा एक साथ तीन लड़ाई, कोरोना, जंगल की आग और नई सड़क बड़ा ख़तरा

कोरोना वायरस पूरी ​दुनिया के लिए संकट बना हुआ है, जिससे सभी देश लड़ने में लगी हुई है। इसी बीच रूस (Russia) तीसरी मार से जुझ रहा है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) इस समय कोरोना के साथ चेर्नोबिल परमाणु संयंत्र के पास जंगल में लगी आग और मॉस्को मोटरवे की घटना की मार से जुझ रहे है।
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com